Saturday, January 22, 2022
Follow us on
 
 
 
Punjab

दिल्ली हवाई अड्डे पर पंजाब की बसों की नो एंट्री का विवाद गहराया

January 02, 2022 09:45 PM


चंडीगढ़, 25 दिसम्बर। पंजाब सरकार की बसों को दिल्ली हवाई अड्डे पर नहीं जाने देने की अनुमति को लेकर लंबे समय से चल रहा विवाद उस समय गहरा गया जब पंजाब के परिवहन मंत्री अमरिंदर सिंह राजा वडि़ंग ने अमृतसर एक कार्यक्रम में पहुंचे दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को घेर लिया।
राजा वडि़ंग दो दिनों से दिल्ली में केजरीवाल के घर के आगे धरने पर हैं। आज अमृतसर में जब केजरीवाल एक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए निकलने लगे तो राजा वडि़ंग ने उन्हें घेरते हुए कहा कि वह इंडो कैनेडियन बसों को दिल्ली भर में चलने की इजाज़त देने और पंजाब रोडवेज़ और पी.आर.टी.सी. को रोके जाने संबंधी स्थिति स्पष्ट करें।
वडि़ंग ने कहा कि स्टेट ट्रांसपोर्ट अंडरटेकिंग (एस.टी.यू.) की वॉलवो बसों को तो इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे तक जाने से रोका हुआ है, जबकि हम केवल 1200 रुपए किराया लेते हैं, परन्तु इसके उलट प्राईवेट बस ऑपरेटर जिनके प्रमुख बादल परिवार हैं, को हर तरह की इजाज़त दी हुई है और वह प्रति सवारी 3000 से 3500 रुपए वसूल कर हमारे लोगों को सरेआम लूट रहे हैं।
उन्होंने कहा कि इस तरह से आप पंजाब को लूटने वाले ट्रांसपोर्ट माफिये का साथ दे रहे हो।
उन्होंने कहा कि वह तथा उनसे पहले के परिवहन मंत्री  केजरीवाल को 13 पत्र लिख चुके हैं। परन्तु दिल्ली सरकार न तो इन बसों को रोक रही है ओर न ही पंजाब रोडवेज़ को दिल्ली हवाई अड्डे जाने की आज्ञा दी गई। अमृतसर में काफी गरमा-गरमी के बीच केजरीवाल ने राज वडि़ंग को आश्वासन दिया कि वह अगले सप्ताह उनके साथ बैठकर इस बारे में चर्चा करेंगे।

 
Have something to say? Post your comment