Chandigarh

सिटी ब्यूटीफुल में 31 मार्च तक शुरू होंगे 53 ईवी चार्जिंग स्टेशन

March 15, 2024 05:01 PM
चंडीगढ़। पंजाब के राज्यपाल एवं चंडीगढ़ के प्रशासक बनवारी लाल ने कहा है कि सिटी ब्यूटीफुल वासियों ने इलेक्ट्रिक वाहनों को अपने जीवन में शामिल करना शुरू कर दिया है। जिसके चलते चंडीगढ़ प्रशासन द्वारा 31 मार्च तक शहर के 32 स्थानों पर 53 इलेक्ट्रिक व्हीकल चार्जिंग स्टेशन स्थापित किए जाएंगे। इस दिशा में प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा लगातार काम किया जा रहा है और वह खुद इस योजना को मॉनिटर कर रहे हैं।

प्रशासक पुरोहित ने पीएचडीसीसीआई के ईवी एक्सपो का किया उदघाटन
चंडीगढ़ के वन क्षेत्र में हुई नौ प्रतिशत की वृद्धि
सरकारी बेड़े में शामिल किए जा रहे इलेक्ट्रिक वाहन


पुरोहित शुक्रवार को चंडीगढ़ के सेक्टर-34 में पीएचडी चैंबर ऑफ कामर्स एंड इंडस्ट्री द्वारा आयोजित दूसरे तीन दिवसीय इलेक्ट्रिक व्हीकल एवं रैन्यूवेबल एनर्जी एक्सपो का उदघाटन करने के बाद ईवी निर्माता कंपनियों के प्रतिनिधियों, उद्योगपतियों तथा शहर वासियों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि चंडीगढ़ प्रशासन द्वारा सितंबर 2022 के दौरान ईवी पॉलिसी को लागू किया गया था। जिसके चलते अब तक हजारों की संख्या में लोग इलेक्ट्रिक वाहनों का पंजीकरण करवा चुके हैं।
अब प्रशासन द्वारा रॉक गार्डन पार्किंग और लेक क्लब पार्किंग,सेक्टर 17 में मल्टी-लेवल पार्किंग, सेक्टर 22 में परेड ग्राउंड के सामने, सेक्टर 23, सेक्टर 34 में पासपोर्ट कार्यालय के पास आदि स्थानों पर लोगों की सुविधा के लिए ईवी चार्जिंग स्टेशन शुरू किए जार हैं।
पुरोहित ने कहा कि चंडीगढ़ की सुंदरता यहां की हरियाली के कारण है। ग्रीन सिटी में हरियाली को बढ़ावा देने के लिए पिछले कुछ वर्षों से किए जा रहे प्रयासों के चलते चंडीगढ़ के वन क्षेत्र में नौ प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है। उन्होंने कहा कि सरकारी विभागों में जहां ईवी को शामिल किया जा रहा है वहीं प्रशासन का प्रयास है कि 2027 तक चंडीगढ़ की सडक़ों पर 70 फीसदी इलैक्ट्रिक वाहन दौड़ें।
 
इससे पहले पुरोहित का यहां पहुंचने पर स्वागत करते हुए चंडीगढ़़ प्रशासन में साइंस एवं टैक्नॉलजी विभाग के सचिव आईएफएस टी.सी. नौटियाल ने कहा कि शहर में इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी) के प्रति लोगों का रुझान बढ़ रहा है। ईवी अपनाने में पूरे देश में चंडीगढ़ सबसे ऊपर है। जनवरी-फरवरी 2024 में शहर में बिके कुल वाहनों में 15.66 फीसदी इलेक्ट्रिक थे। उन्होंने बताया कि ईवी खरीदने को वालों को अब तक सब्सिडी के रूप में 18.66 करोड़ दिए गए हैं।
इससे पहले पीएचडीसीसीआई चंडीगढ़ चेप्टर के अध्यक्ष मधुसुदन ने कहा कि चंडीगढ़ इलेक्ट्रिक वाहनों की बढ़ती मांग को देखते हुए चैंबर द्वारा तीन दिवसीय एक्सपो का आयोजन किया गया है। जहां लोगों को एक ही छत तले कई तरह के वाहन देखने को मिल सकते हैं। इस अवसर पर चंडीगढ़ रेन्यूवल एनर्जी एंड साइंस एंड तकनौलजी प्रमोशन सोसायटी (क्रेस्ट) के सीईओ नवनीत श्रीवास्तव (आईएफएस) ने आए हुए अतिथियों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि विभाग द्वारा सौर ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए कई तरह की योजनाएं चलाई जा रही हैं।
चंडीगढ़ तथा आसपास के क्षेत्रों में अधिक से अधिक लोगों को इसके साथ जोडऩे का प्रयास किया जा रहा है। पीएचडीसीसीआई पंजाब चैप्टर के चेयर आर.एस. सचदेवा ने कहा कि यह चैंबर का दूसरा आयोजन है। भविष्य में इसका विस्तार किया जाएगा। इस अवसर पर पीएचडीसीसीआई की क्षेत्रीय निदेशक भारती सूद,पीएचडीसीसीआई रेन्यूवल एनर्जी कमेटी के संयोजक पर्व अरोड़ा, क्रेस्ट के प्रोजैक्ट मैनेजर भूपिंदर सिंह, राजेश खोसला, दीपक पांडे समेत कई गणमान्य मौजूद थे।
 
 
Have something to say? Post your comment
More Chandigarh News
ईवी को अपने जीवन का हिस्सा बनाएं युवा:सुखविंदर सिंह
ईवी खरीदने वाले उपभोक्ताओं को दी 18.66 करोड़ सब्सिडी:नौटियाल
नए जनसांख्यिकीय लाभ के अवसर बढ़े:अरविंद विरमानी
महिलाओं को उद्योग जगत में नई पहचान देगा शी-फोरम
सिम्मी मरवाहा युवा पत्रकार सम्मान के लिए आवेदन आमंत्रित
पंजाब दे शेर ने सेलिब्रिटी क्रिकेट लीग के अंतर्गत लांच की अपनी टीम जर्सी
डेराबस्सी के भगवान परशुराम भवन में मूर्ति स्थापना दिवस मनाया
स्वास्थय जीवन शैली के लिए नियमित व्यायाम और संतुलित पोषण जरूरी:डॉ. वंदना
बीआईएस के 77वें स्थापना दिवस के दौरान सीएजी को सम्मान
एमएसएमई के वित्तीय सशक्तिकरण से मिलेगी उद्योगों को मजबूती:भारती सूद