National

अब उन जरूरी दिनों में परेशान नहीं होंगी महिलाएं

March 26, 2023 03:41 PM

 

चंडीगढ़। दस साल की बच्ची से लेकर 45 साल की महिला तक को किस समय सैनेट्री पैड की जरूरत पड़ जाए यह कोई नहीं जानता है। ऐसे में अगर उनके पास फर्स्ट ऐड किट फॉर विमेन होगी तो उन्हें उन जरूरी दिनों में इंमरजेंसी के दौरान कहीं झांकना नहीं पड़ेगा और न ही अपने काम के स्थान पर शर्मसार होना पड़ेगा।

गाड़ी में मौजूद रहेगी फर्स्ट ऐड किट फॉर विमेन

पेडमित्र सुनील जागलान ने शुरू किया नया अभियान


बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, पीरियड चार्ट, पेडमित्र गाली बंद घर , लाडो गो ऑनलाईन , सेल्फी अंगेस्ट डॉवरी और सेल्फी विद डॉटर जैसे सैकड़ों अभियानों का आगाज कर चुके राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता एवं प्रधानमंत्री व राष्ट्रपति द्वारा प्रशंसा प्राप्त सुनील जागलान ने महिलाओं से जुड़े एक नए अभियान फर्स्ट ऐड किट फॉर विमेन की शुरुआत की है। हरियाणा के गुरुग्राम, नूंह, जींद आदि जिलों से इस अभियान की शुरूआत की गई है। जिसे बाद में न केवल हरियाणा बल्कि देश के कई अन्य हिस्सों तक पहुंचाया जाएगा।
जागलान के अनुसार यह चीज़ बहुत पहले ही शुरू हो जानी चाहिए थी, फस्र्ट एड किट इमरजेंसी के लिए होता है और पीरियड किसी भी महिला को कभी भी हो सकते हैं इसलिए फर्स्ट ऐड में सेनेट्री नैपकिन होना भी बहुत जरुरी है। जागलान के अनुसार पीरियड से जुड़े संकोच अभी भी दूर नहीं हुए है। सरकारें भी इसके बारे में केवल ‘विश्व मेंस्ट्रयूअल हायजीन डे’ जैसे अवसरों पर ही बात करती है, जबकि इन संवेदनशील विषयों पर हर पल बात करने की जरूरत है।
सुनील और उनकी टीम ने मिलकर कुल 500 फस्र्ट एड किट तैयार किए है जिन्हें फिलहाल हरियाणा में बांटा जाएगा और फिर धीरे-धीरे इस अभियान को अन्य राज्यों में भी चलाया जाएगा। जागलान ने बताया कि वह अपने साथी युवाओं को इस बात के लिए तैयार कर रहे हैं कि वह अपनी गाडिय़ों में फर्स्ट ऐड किट फॉर विमेन में सैनेट्री पैड को शामिल करें। जागलान ने बताया कि वह हर समय अपने साथ गाड़ी में इस तरह की किट रखते हैं, जो भी परिचित मिलता है उसे इस अभियान के बारे में बताकर गाड़ी में किट रखवाते हैं। सुनील के अनुसार 500 लोगों को सैनेट्री पैड वाले किट देते हुए उन्होंने अपने परिवार और अन्य लोगों को भी गाड़ी में सेनिट्री नैपकिन रखने के लिए जागरूक करने को कहा है। फर्स्ट ऐड के सामान के अलावा हर किट में सैनेटरी पैड एवं साथ में पीरियड चार्ट भी सेल्फी विद डॉटर फाऊंडेशन द्वारा दिया जाऐगा ।

कहां से आया आइडिया
जागलान ने बताया कि उन्हें गाड़ी में पैड रखने का ये आईडिया अपनी बेटियों के कारण आया। उन्होंने कहा कि पीरियड एक नेचुरल चीज़ है,जब हम अपनी बेटियों या घर की किसी भी महिला के साथ सफर करते हैं तो उन्हें कभी भी सैनिट्री नैपकिन की जरुरत पड़ सकती है। इसलिए मुझे लगा कि अपनी गाड़ी में पैड रखने के लिए लोगो को जागरूक करना बहुत जरुरी है।

प्रधानमंत्री करें अपील तो देश में आएगी महिला क्रांति
सुनील जागलान द्वारा शुरू किए सेल्फी विद डॉटर अभियान को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कई अपने कार्यक्रमों के माध्यम से सराह चुके हैं। जागलान के अनुसार ‘अगर प्रधानमंत्री मोदी इस बारे में बात करेंगे तो ये अभियान और बड़ा एवं कारगर हो जाएगा। इससे देश की आधी आबादी को लेकर नई क्रांति आएगी।

 

 
Have something to say? Post your comment
More National News
कांग्रेस के घोषणा पत्र में विदेशी ताकतों की छाप: अनुराग ठाकुर
बौद्धिक संपदा अधिकारों पर पीएचडीसीसीआई की दो दिवसीय आईपी यात्रा संपन्न
देश के लिए प्रगतीशील है केंद्र का बजट:सचदेवा
अनुराग ठाकुर की पहल “एक से श्रेष्ठ” के 500 वें सेण्टर का उपराष्ट्रपति ने किया शुभारंभ
इनेलो के आईएनडीआइए में शामिल होने का विरोध नहीं करेंगे हुड्डा
अयोध्या में रामलाला की मूर्ति स्थापना अवसर पर निहंग लगाएंगे लंगर
राजस्थान में किसान और कमेरा वर्ग  देगा कांग्रेस को चुनाव में करारा जवाब  : औमप्रकाश धनखड़
पंजाब में व्यापारियों के लिए जीएसटी से पहले के बकाए के लिए एकमुश्त निपटारा योजना लागू
अब सिख नहीं कर सकेंगे डेस्टिनेशन शादियां
कृषि-खाद्य प्रणाली और ग्रामीण अर्थव्यवस्था के लिए महिलाओं को मजबूत करना जरूरी