National

गुरुग्राम में गुरू पूर्णिमा पर गुरूजी के दर्श-दीदार कर संगत हुई निहाल

संजय कुमार मेहरा | July 13, 2022 10:16 PM

-नाम चर्चा घर में गुरूजी के लाइव दर्शनों को दोपहर से ही पहुंचने लगी थी संगत
-नाम चर्चा घर को रंग-बिरंगे गुब्बारों, लडिय़ों से सजाया गया
-गुरू पूर्णिमा की साध-संगत ने गुरूजी को नारा लगाकर दी बधाई
-आई लव एमएसजी लिखकर किया गुरू के प्रति प्रेम का इजहार
-रंग-बिरंगे परिधानों में सज-धजकर पहुंची थी बहनें, बच्चे
-भाईयों ने धोती-कुर्ता के साथ गुलाबी रंग की पगड़ी पहनी थी


संजय कुमार मेहरा
गुरुग्राम। डेरा सच्चा सौदा के श्रद्धालुओं के लिए इस बार का गुरू पूर्णिमा दिवस पहले के गुरू पूर्णिमा दिवसों से कहीं अधिक जोश भरा रहा। संगत के लिए यह दिन किसी बड़े पर्व से कम नहीं था। अपने गुरू संत डा. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इंसा के दर्शनों के लिए साध-संगत दोपहर से ही साउथ सिटी-2 स्थित नाम चर्चा घर में पहुंचनी शुरू हो गई थी। देखते ही देखते नाम चर्चा घर में भाईयों, बहनों और बच्चों की अच्छी-खासी संख्या हो गई। यहां प्रबंधकों ने साध-संगत के लिए बेहतरीन प्रबंध भी किए थे।

 


गुरू पूर्णिमा के अवसर पर नाम चर्चा घर को रंग-बिरंगी लडिय़ों और रंग-बिरंगे गुब्बारों, बेल, रंग-बिरंगी पत्तियों से सजाया गया था। गुरूजी के दर्शनों को पहुंची साध संगत में बहनों व छोटी बेटियों ने अपने सिर रंग-बिरंगे हेयर बैंड भी लगा रखे थे। संगत के लिए यह आयोजन किसी बड़े सत्संग से भी कम नहीं थी। गेट में प्रवेश करते ही बड़ी स्क्रीन लगाई गई थी, ताकि संगत आराम से और भव्यता से गुरूजी के दर्श-दीदार कर सके।

इसी बड़ी स्क्रीन के सामने ही चार बड़े-बड़े केक भी रखे गए थे, जिन्हें गुरू पूर्णिमा के अवसर पर काटकर संगत में प्रसाद के रूप में वितरित किया गया। केक की टेबल को भी गुलाब व गेंदे के फूलों से सजाया गया था। पूरी संगत गुरू जी के साथ डिजिटल रूप से बिताए गए इन पलों को अपने मोबाइल कैमरों में कैद करने को आतुर थी। साथ ही संगत गुरू जी के यू-ट्यूब चैनल को उनके मंच पर आते ही लाइक करने को लालायित थी।


इन सबके बीच सेवादारों द्वारा पानी, ट्रैफिक आदि की सेवा भी बड़े अनुशासनिक तरीके से की जा रही थी। बच्चों में भी यहां गजब की सेवा भावना दिखी। शाम 7 बजे तक संगत की खूब भीड़ हो गई। स्क्रीन पर पहले गुरूजी के वीडियो भजन चलाए गए तो संगत झूम उठी। पूरी संगत पूरे जोश और जुनून में मस्त होकर नाचती रही। इसके बाद ढोल की थाप पर बोलियां लगाकर भी संगत ने खूब डांस किया। इसके बाद जब गुरूजी के स्क्रीन पर दर्श-दीदार हुए तो गुरुग्राम की साध-संगत का वैरागय के साथ खुशी का कोई ठिकाना ना रहा। संगत ने गुरूजी के जी भरकर दर्श-दीदार किए। संगत के भी सदस्यों ने गुब्बारे लहराकर गुरूजी का स्वागत किया। बीच-बीच में संगत नृत्य भी करती नजर आई।

 

 
Have something to say? Post your comment
More National News
हरियाणा व जर्मनी में एजुकेशन एक्सचेंज कार्यक्रम को बढ़ाया जाए:राहुल कुमार
गुरुग्राम: वैक्सीनेशन में ड्यूटी दे रहीं नर्सिंग ऑफिसर्स को प्रधान मंत्री ने भेजी डिजिटल चिट्ठी
कांगड़ा में हजारों डेरा प्रेमियों ने ली 139 मानवता भलाई कार्यों की शपथ
बेंगलूरू: कराटे चैंपियनशिप में एमडीयू रोहतक के दीपक सोमवार को स्वर्ण पदक के लिए अरुणाचल के संजय से भिड़ेंगे
भारत व कनाडा में द्विपक्षीय कारोबार बढ़ाने की जरूरत
गुरुग्राम: धूमधाम से मनाया गया रंगों का त्योहार होली
गुरुग्राम: खिलाडिय़ों में सदा सिर्फ खेल की हो भावना: डा. विजय सिंह नम्बरदार
गुरुग्राम: शुरू हुआ 12 से 14 साल के बच्चों का टीकाकरण, सभी बच्चों को टीके लगवाएं
रोहतक: तैमूरपुर गांव में कलश यात्रा निकाल गुरू गोरखनाथ की प्रतिमा की स्थापित
गुरुग्राम: महिला-पुरुष एक दूसरे के पूरक हैं: डिप्टी मेयर सुनीता यादव