Saturday, January 22, 2022
Follow us on
 
 
 
Haryana

सभी जिलों में आक्सीजन के प्रबंध पूरे करें उपायुक्त:मनोहर लाल

January 02, 2022 10:04 PM
कोरोना गाइडलाइन का उलंघन करने पर पांच से पांच हजार तक जुर्माना
चंडीगढ़, 2 जनवरी। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि सरकार कोरोना की तीसरी लहर की किसी भी स्थिति से निपटने के लिए पूरी मुस्तैदी से कार्य कर रही है।
मुख्यमंत्री रविवार को चंडीगढ़ में कोरोना संक्रमण के मद्देनजर बुलाई गई बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। बैठक में सभी जिला उपायुक्त वीसी के माध्यम से जुड़े। उन्होंने उपायुक्तों को निर्देश दिए कि वह जिलों में ऑक्सीजन प्लांट, अस्पताल एवं आवश्यक उपकरण एवं अन्य सुविधाओं की समीक्षा करना सुनिश्चित करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि उपायुक्त अपने जिलों की लोकल लेवल कमेटियों को भी सर्तक रखें।
आंगनबाडी वर्कर तथा शिक्षा विभाग की भी आवश्यकता पडऩे पर उनकी सेवाएं ली जा सकती है। उन्होंने कहा कि बस स्टेण्ड, लघु सचिवालय, मॉल, जिम तथा अन्य सार्वजनिक स्थलों पर पूरी निगरानी रखें और ऐसे स्थानों पर बिना वेक्सीन डोज लगवाए लोगों का प्रवेश निषेध करें।
मुख्यमंत्री ने कहा कि विदेश यात्रा करके आने वाले यात्रियों पर पूरी निगरानी रखी जाए, जब तक यह सुनिश्चित न हो, कि उनमें किसी भी तरह के कोविड संबंधी लक्षण नहीं हों। टेस्टिंग की रिपोर्ट आने तक उन्हें होम आईसोलेट करें। मुख्यमंत्री ने यह भी अवगत करवाया कि नए वेरियंट की टेस्टिगं की सुविधा महर्षि दयानन्द युनिवर्सिटी रोहतक में शुरू कर दी गई है। अब टेस्टिंग के परिणाम जल्द आने शुरू हो जाएगें। इसके अलावा अन्य स्थानों पर टेस्टिंग बढाई जा रही है।  
उन्होंने कहा कि नए वेरिंयंट का प्रभाव तेजी से बढ रहा है और दूसरी लहर का वेरियंट भी एक्टिव है। इसलिए एहतिहायत बरतना बहुत ही आवश्यक है। उन्होंने नाईट मुवमेंट का प्रतिबंध सख्ती से पालन करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि व्यक्तिगत स्तर पर कोविड निर्देशों की अवहेलना करने वालों पर 500 रुपए तथा संस्थाओं पर 5000 रुपए का जुर्माना किए जाने का प्रावधान है।    
मुख्यमंत्री ने कहा कि हैल्थ वर्कर एवं फ्रंट लाईन वर्कर तथा 60 साल से अधिक आयु के व्यक्तियों के लिए 10 जनवरी से कोरोना प्रीकॉशन डोज लगानी आरम्भ की जाएगी। इसके अलावा 15 से 18 साल तक की आयु के बच्चों को भी 3 जनवरी से को-वैक्सिन लगानी शुरू की जाएगी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि गुरूग्राम, फरीदाबाद, पंचकूुला, सोनीपत व अम्बाला में कोरोना के मामले बढ रहे है। इसलिए इन जिलों को ए ग्रुप में रखा गया है। इन जिलों में अधिक सावधानी बरतने और सतर्क रहने की आवश्यकता है। उन्होंने उपायुक्तों को प्रतिदिन कोरोना केसों की समीक्षा करने को भी कहा। हर रोज लगभग 3 लाख वेक्सिनेशन डोज लगाई जा रही है तथा अब तक लगभग 3 करोड़ 45 लाख़ लोगों को वेक्सिन लगाई जा चुकी है। इसमें लगभग 2 करोड़ लोगों को पहली तथा एक करोड़ 44 लाख लोगों को दूसरी वैक्सिन डोज शामिल है।  
बैठक में मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव डी. एस. ढेसी, मुख्य सचिव संजीव कौशल, अतिरिक्त मुख्य सचिव राजस्व एवं आपदा प्रबंधन पी.के.दास, अतिरिक्त मुख्य सचिव स्वास्थ्य विभाग  राजीव अरोड़ा, एनएचएम डायरेक्टर प्रभजोत सिंह, एडीआईपीआर वर्षा खनगवाल भी उपस्थित थे।

 
Have something to say? Post your comment
More Haryana News
समाज को स्वस्थ बनाने व कोरोना को खत्म करने के लिए सूर्य नमस्कार जरुरी : पवन जिंदल
गुरुग्राम के अस्पतालों व स्कूलों में शुरू हो गया किशोरों का टीकाकरण
छात्रों को विभिन्न संस्कृतियों और भाषाओं के बारे में सीखना चाहिए: मनोहर लाल
जब वाजपेयी ने तीन मिनट में दिया था गुड गवर्नेंस का संदेश
सुपवा हरियाणा में शुरू करेगी साप्ताहिक कोर्स
भाजपा ने चंडीगढ़ में बदले राजनीति के मायने:खट्टर
--हरियाणा विधनसभा का शीतकालीन सत्र--
कांग्रेस कल्पनाओं में चलकर अस्वस्थ्य हो चुकी पार्टी:संतोष
पर्यटन के क्षेत्र में लगातार बढ़ रही हैं नौकरियां:संजय कुमार
हर वर्ष 2500 डॉक्टर तैयार करने का लक्ष्य:मनोहर लाल