Punjab

पंजाब के गन्ना किसान रेलवे ट्रैक व सडक़ों पर

August 21, 2021 07:59 PM


चंडीगढ़। पंजाब पिछले दो दिन से गन्ना किसान रेलवे ट्रैक व सडक़ों पर धरना दे रहे हैं। किसानों द्वारा रेलवे ट्रैक व सडक़ों पर कब्जा करने से जहां एक दर्जन से अधिक यात्री गाडिय़ां प्रभावित हो रही है वहीं सडक़ मार्ग से ट्रैफिक को डायवर्ट किया गया है। किसानों ने ऐलान किया है कि अगर सरकार ने उनकी मांगे नहीं मानी तो पंजाब बंद का ऐलान किया जाएगा। आंदोलन के कारण शनिवार को फिरोजपुर मंडल में 19 ट्रेनें रद्द कर दी गई हैं।
गन्ने का समर्थन मूल्य बढ़ाने तथा बकाया राशि का भुगतान करने की मांग को लेकर पंजाब के किसान शुक्रवार से धरने पर हैं। किसानों ने जालंधर तथा फिरोजपुर में अलग-अलग स्थानों पर सडक़ों तथा रेल की पटरियों पर धरना शुरू कर रखा है। अनिश्चितकालीन धरने की वजह से नेशनल हाईवे तथा रेलवे ट्रैक पर ट्रैफिक प्रभावित हो रहा है। भारतीय किसान यूनियन दोआबा के एमएस राय ने कहा कि अगर सरकार ने बातचीत नहीं की, तो पंजाब बंद का आह्वान करेंगे।
किसानों के धरने के लिए शनिवार को रेल गाडिय़ों को स्टेशनों पर ही रोक दिया गया। रक्षा बंधन के चलते शनिवार को रोडवेज की बसों में महिलाओं तथा बच्चों की भारी भीड़ रही।  करीब आधा दर्जन सडक़ मार्गों पर किसानों द्वारा धरना दिए जाने के कारण शनिवार को हजारों लोग परेशान होते रहे। किसानों के धरने के कारण लुधियाना-चंडीगढ़ तथा लुधियाना-दिल्ली मार्ग प्रभावित हुए।
दोआबा किसान यूनियन जालंधर के प्रधान गुरप्रीत सिंह अटवाल ने बताया कि समूह किसान जत्थेबंदियां एक जुट होकर सरकार के खिलाफ धरना देंगी। सरकारी तथा निजी शुगर मिलों की तरफ किसानों का 200 करोड़ रुपए बकाया है। सरकार के समक्ष ब्याज सहित पैसों की अदायगी करने की मांग को सरकार ने अनदेखा किया। पंजाब में गन्ने का न्यूनतम मूल्य हरियाणा से अधिक करने की मांग की है।  सरकार को फर्दें भी केंद्र सरकार की तर्ज पर पोर्टल पर चढ़ाने के लिए जारी आदेश भी वापस लेने की मांग रखी है।

 

 

--

 
Have something to say? Post your comment