Punjab

पंजाब पुलिस ने आतंकी हमले की साजिश को किया बेनकाब

August 17, 2021 10:22 PM
 



चंडीगढ़। पंजाब पुलिस ने रविवार की रात संभावित आतंकी हमले को टालते हुये यू. के. आधारित आतंकवादी संगठन से जुड़े दो आतंकवादियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने उनके कब्ज़े में से भारी मात्रा में हथियार और गोला-बारुद बरामद किया जिसमें दो हैंड ग्रेनेड, एक पिस्तौल (9एमएम) समेत जिंदा कारतूस और मैगजीन शामिल थी।
डीजीपी दिनकर गुप्ता ने सोमवार को इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि यह दोनों यू.के. आधारित आतंकवादी गुरप्रीत सिंह खालसा उर्फ गुरप्रीत के निर्देशों पर काम करते थे। इन दोनों को अमृतसर से गिरफ्तार किया गया था और इनको सरहद पार भेजे जा रहे हथियारों की खेप को प्राप्त करने का काम सौंपा गया था। उन्होंने आगे कहा कि यह खेप कुछ दिन पहले अटारी-झबाल रोड़ के आसपास के सरहदी क्षेत्र में भेजी गई थी। उन्होंने कहा कि गुरप्रीत सिंह खालसा उर्फ गुरप्रीत लुधियाना के सिंगार बम मामले में भी शामिल था।
डीजीपी ने कहा कि पाकिस्तानी आईएसआई और विदेशों में स्थित आतंकवादी तत्वों जो आई.एस.आई. के सहयोग से काम कर रहे हैं, की तरफ से स्वतंत्रता दिवस के मौके या इसके आसपास भारत में हमला करने की योजना सम्बन्धी सूचनाएं मिलने के मद्देनजऱ, पंजाब पुलिस की तरफ से सरहदों पर व्यापक सुरक्षा प्रबंध किये गए थे। विशेष सुरक्षा चौकियां स्थापित की गई थीं और दिन-रात गस्त में भी विस्तार किया गया था।
15 और 16 अगस्त की बीच का रात को ऐसे एक नाके पर चैकिंग के दौरान, पुलिस थाना घरिंडा, (अमृतसर-ग्रामीण) में अड्डा खालसा के पास लगाए एक नाके पर तैनात पुलिस कर्मचारी की तरफ से मोटर साइकिल सवार दो व्यक्तियों को रोका गया। पुलिस ने दोनों को शक्की पाया क्योंकि वह न तो देर रात अपनी मौजुदगी संबंधी बता सके और न ही वाहन की मालकी से सम्बन्धित कोई प्रामाणिक दस्तावेज़ पेश कर सके। डीजीपी ने बताया कि पीछे बैठे व्यक्ति अमृतपाल सिंह पुत्र करनैल सिंह की तलाशी लेने के उपरांत उससे 1 पिस्तौल (9एम.एम.), 1 मैगज़ीन और 7 जिंदा कारतूस बरामद हुए। मोटर साइकिल को सुलतानविंड, अमृतसर का सेमी पुत्र रणजिन्दर सिंह चला रहा था।
उनके पास से दो हैंड ग्रेनेड, दो पिस्तौल (9एम.एम.), 4 मैगजीन और 20 गोली ज़ब्त की गई।
 
Have something to say? Post your comment