Saturday, May 15, 2021
Follow us on
 
 
 
National

तीन साल में देश के सभी मंडलों में चलेंगे संघ के कार्यक्रम:ठाकुर

March 28, 2021 04:08 PM

चंडीगढ़। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय सह प्रचार प्रमुख नरेंद्र कुमार ठाकुर ने कहा है कि संघ ने वर्ष 2024 तक देश के सभी मंडलों को सक्रिय करते हुए शाखा कार्यक्रम सुचारू रूप से चलाने का फैसला किया है। इस समय संघ के देशभर में 55 हजार 542 मंडल हैं। आज यहां पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि वर्तमान में 22 हजार 340 मंडलों में शाखा गतिविधियों का संचालन हो रहा है। संघ की सांगठनिक रचना में मंडल खंड से छोटी इकाई है, जिसमें करीब आठ से दस गांव होते हैं।
उन्होंने कहा कि वर्ष 2024 तक देश के सभी 6500 खंडों में पूर्णकालिक प्रचारकों की तैनाती करने पर कार्य चल रहा है। उन्होंने बताया कि कोरोना काल के दौरान देशभर के करीब 25 लाख स्वयं सेवकों ने न केवल अपने स्तर पर बल्कि संबंधित प्रशासन का सहयोग करते हुए सामाजिक कार्यों को बढ़ावा दिया है।

आरएसएस के सह प्रचार प्रमुख पहुंचे चंडीगढ़
देशभर में चलेगा सामाजिक समरसता अभियान
साढे छह हजार खंडों में तैनात होंगे पूर्णकालिक प्रचारक


उन्होंने बताया कि संघ द्वारा अब देशभर में सामाजिक समरस्ता के कार्यक्रमों पर जोर दिया जा रहा है। जिसके चलते गांव स्तर पर एक मंदिर, एक शमशान व एक स्त्रोत पानी का नामक कार्यक्रमों को मजबूती से बढ़ाया जा रहा है। इस कार्यक्रम को लेकर जनसमर्थन बढ़ रहा है। नरेंद्र कुमार ने कहा कि कोरोना काल में जहां एक बार संघ की सार्वजनिक गतिविधियां कुछ समय के लिए रुक गई थी वहीं अब 80 फीसदी शाखाओं, साप्ताहिक मिलन तथा मासिक मंडली के कार्यक्रमों का आयोजन शुरू हो चुका है। उन्होंने बताया कि संघ के कार्यकर्ताओं द्वारा कोरोना काल में देशभर में 92 हजार 600 स्थानों पर सेवा कार्य किए गए। इसमें पांच लाख 700 सक्रिय कार्यकर्ताओं ने भाग लिया।
संघ के सह प्रचार प्रमुख ने बताया कि कोरोना काल के दौरान संघ द्वारा देशभर में 73 लाख 81 हजार 900 परिवारों को राशन किट वितरित की गई। इसके अलावा चार करोड़ 66 लाख 35 हजार लोगों को तैयार भोजन प्रदान किया गया। संघ कार्यकर्ताओं के प्रयास से अलग-अलग स्थानों पर 66 हजार 300 यूनिट रक्त एकत्र करके स्वास्थ्य संस्थानों को दिए गए। इसके अलावा चार लाख 53 हजार 233 स्वयं सेवकों ने प्रहार महायज्ञ में भाग लिया।


नरेंद्र कुमार ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान बौधिक विभाग की तरफ से करीब 25 हजार कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। जिसमें दस लाख 36 हजार 400 स्वयं सेवकों ने भाग लिया। उन्होंने बताया कि संघ द्वारा शुरू की गई पौधारोपण, जल संरक्षण तथा प्लास्टिक मुक्त भारत अभियान को भरपूर जनसमर्थन मिल रहा है। इस अवसर पर उत्तर क्षेत्र क्षेत्रीय प्रचार प्रमुख अनिल कुमार, हरियाणा प्रांत प्रचार प्रमुख राजेश कुमार, पंजाब प्रांत प्रचार प्रमुख शशांक के अलावा चंडीगढ़, हरियाणा व पंजाब के संघ प्रतिनिधि मौजूद थे।

हरियाणा व कर्नाटक बने रोल मॉडल
राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के अखिल भारतीय सह प्रचार प्रमुख नरेंद्र कुमार ठाकुर ने बताया कि संघ द्वारा देशभर में चलाए जाने वाले कार्यक्रमों के तहत लॉकडाउन के दौरान हरियाणा व कर्नाटक ने ‘एक शाम परिवार के नाम’ कार्यक्रम में अहम भूमिका निभाई है। उन्होंने बताया कि पहले जहां संघ की शाखाओं तथा अन्य कार्यक्रमों के साथ परिवार का एक सदस्य जुड़ा हुआ था वहीं इस कार्यक्रम के माध्यम से पूरा परिवार जुड़ा। कार्यक्रम के दौरान पूजा, प्राणायाम, संघ परिचय, प्रेरक प्रसंग तथा प्रसाद वितरण का आयोजन किया गया। हरियाणा व कर्नाटक के बाद देश के अन्य राज्य भी इस कार्यक्रम को आगे बढ़ा रहे हैं।

निधि समर्पण में 12 करोड़ परिवारों से हुआ संपर्क
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय सह प्रचार प्रमुख नरेंद्र कुमार ठाकुर ने बताया कि राम मंदिर निर्माण के लिए शुरू किए गए देशव्यापी अभियान के तहत संघ के कार्यकर्ताओं ने 12 करोड़ परिवारों से संपर्क किया। देशभर में 20 लाख 64 हजार 600 कार्यकर्ताओं ने साढे पांच लाख स्थानों पर यह अभियान चलाया,जिसमें 80 हजार 426 महिलाएं शामिल थीं। इसके अलावा नौ लाख तीन हजार ऐसे कार्यकर्ता थे,जिन्होंने इस अभियान में तीन दिन से अधिक समय दिया।

 
Have something to say? Post your comment
More National News
रोहतक: महामारी का खतरा टालने को तैमूरपुर गांव को किया सेनिटाइज
गुरुग्राम: मात्र 1 साल के बच्चे की जान की कीमत 16 करोड़ रुपये
गुरुग्राम: भारतीय चित्तीदार बाज की घटती संख्या चिंता का कारण: प्रो. राम सिंह
ड्रग्स की दुष्प्रभावों के प्रति जागरुकता के लिये चंडीगढ़ के साईकलिस्ट करेंगें शिमला तक रैली
जब आस्ट्रेलिया में बरसे हरियाणवी कोरड़े...
हरियाणा में खप्त के साथ-साथ बढ़ गया दूध उत्पादन महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री तुरंत दे इस्तीफा:विज
हरियाणा बोर्ड पहली व दूसरी कक्षा की होगी आफ लाइन परीक्षा
हरियाणा में अलग प्रबंधक कमेटी की जरूरत नहीं:जगीर कौर
कोरोना नियंत्रण को ‘टेस्ट, ट्रैक एंड ट्रीट’ रणनीति को अपनाएं : मनोहर लाल