Saturday, May 15, 2021
Follow us on
 
 
 
Punjab

पंजाब : 81 फीसदी नमूनों में मिला कोरोना का यूके वायरस

March 23, 2021 06:34 PM

चंडीगढ़, 23 मार्च। पंजाब में कोरोना के संदिग्ध रोगियों के सैंपल की रिपोर्ट आने के बाद प्रदेश में खलबली मच गई है। राज्य के 81 फीसदी नमूनों में यूके कोरोना वायरस मिला है। यह वायरस पहले से प्रकोप ढाह रहे वायरस के मुकाबले कई गुणा घातक है। इस बीच मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर अपील की है कि टीकाकरण अभियान में युवा वर्ग को भी शामिल किया जाए। पंजाब सरकार द्वारा विदेशों से लौटे करीब 401 लोगों के सैंपल लिए गए थे। जिनमें से 81 प्रतिशत लोग न केवल कोरोना पॉजिटिव मिले हैं बल्कि उनमें कोरोना का यूके वायरस मिला है।  

मुख्यमंत्री की प्रधानमंत्री को अपील टीकाकरण में युवाओं को करें शामिल

 


मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस बात की ज़रूरत पर ज़ोर दिया कि केंद्र सरकार द्वारा आबादी के बड़े वर्ग को भी टीकाकरण मुहिम में जल्द से जल्द शामिल किया जाये। उन्होंने कहा कि इस प्रक्रिया में तेज़ी लाई जानी चाहिए। उन्होंने ध्यान दिलाया कि माहिरों द्वारा मौजूदा कोविडशील्ड दवा को यू.के. के वायरस बी.1.1.7 के लिए भी बेहद कारगर पाया गया है। इसलिए इस वायरस के फैलाव की लड़ी को तोडऩे के लिए अधिक से अधिक लोगों का टीकाकरण किया जाना ज़रूरी है।
मुख्यमंत्री द्वारा यह अपील राज्य की कोविड माहिरों की समिति के प्रमुख डॉ. के.के. तलवार द्वारा उनको इस वायरस के नये रूप संबंधी जानकारी दिए जाने के बाद की गई है। राज्य में बीते कुछ हफ़्तों के दौरान कोविड-19 के पॉजि़टिव मामलों की संख्या में बड़े स्तर पर वृद्धि हुई है।

राज्य के स्वास्थ्य विभाग द्वारा इस वायरस के रूप के स्तर का पता लगाने के लिए 478 कोविड-19 पॉजि़टिव नमूने एन.आई.बी., आई.जी.आई.बी. और एन.सी.डी.सी. को भेजे गए थे। इनमें से 90 नमूनों के नतीजे आ गए हैं जिनमें से सिर्फ़ दो नमूनों में ही एन440 की किस्म पाई गई है।
इसके बाद भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की एक टीम ने पॉजि़टिव दर में वृद्धि की समीक्षा करने के लिए राज्य का दौरा किया। टीम को इस वायरस के रूप के स्तर का पता लगाने के बाकी रहते नतीजों बारे जानकारी दी गई। इसके बाद 401 नमूने, जोकि 1 जनवरी, 2021 से लेकर 10 मार्च, 2021 तक लिए गए थे, एन.सी.डी.सी. को भेजे गए जिससे इस वायरस के रूप के स्तर का पता किया जा सके। डॉ. के.के. तलवार ने कहा कि इन नमूनों के नतीजे चिंताजनक थे क्योंकि 326 कोविड नमूनों में बी.1.1.7 किस्म की मौजूदगी पाई गई।
मुख्यमंत्री ने कहा कि यू.के. की यह किस्म बी.1.1.7 ज़्यादा संक्रमित है परन्तु ज़्यादा ज़हरीली नहीं है। ऑक्सफोर्ड (कोवीशिल्ड) की दवा यू.के. की इस नयी किस्म के लिए पूरी तरह कारगर है।  ध्यान देने की बात है कि बी.1.1.7 किस्म अब दुनिया के कई हिस्सों में फैल गई है और यू.के. में इसके 98 प्रतिशत और स्पेन में 90 प्रतिशत नये मामले हैं। यू.के. की सरकार ने कहा है कि मूल वायरस से यह नयी किस्म 70 प्रतिशत तक अधिक फैलने योग्य है। 

 
 
 
Have something to say? Post your comment
More Punjab News
लालडू इलाके में लिंक सड़को की बुरी हालत
सोनिया शर्मा बनी किसान यूनियन की राष्ट्रीय सचिव
शिरोमणी अकाली दल ने सिख नौजवान रंजीत सिंह को सम्मानित किया
पंजाब में सभी स्कूल 31 मार्च तक बंद पंजाब में बेकाबू हुआ कोरोना अमन के मुद्दे पर खोखले वादों वाली बयानबाजी छोड़ो, अमल करो : कैप्टन अमरिंदर सिंह कोरोना काल पर हाईकोर्ट का फैसला, वीडियो कांफ्रैंसिंग से पंजीकृत होंगी शादियां
शंभू बॉर्डर पहुंची हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी सैलजा
प्री-प्राईमरी से बारहवीं तक के विद्यार्थियों को वार्षिक इम्तिहानों की तैयारी के लिए छुट्टियाें का एलान : सिंगला
भारत में डिजिटल क्रांति से रोजगारपरकता में आया सुधार